समर्थक

शुक्रवार, 11 अप्रैल 2014

ये श्री मोदी का व्यक्तिगत मामला नहीं है !




बीजेपी के प्रवक्ता श्री रविशंकर  प्रसाद आज बौखलाए  हुए थे  .श्री मोदी  ने  जसोदा  बेन  को पत्नी  का  दर्ज़ा  देने  में इतना समय लगाया कि झूठे शपथ -पत्र तक  दे दिए  चार- चार विधान -सभा चुनाव लड़ते समय . इस पर जब राहुल जी ने एक महिला के प्रति श्री मोदी के छल को धिक्कारा तब रविशंकर प्रसाद जी  ने घिनौना बयान देते हुए गांधी-नेहरू परिवार को इस मुद्दे पर चुप रहने की न केवल धमकी दी बल्कि चुप न रहने पर नेहरू जी ,इंदिरा जी ,राजीव जी के व्यक्तिगत जीवन के राज़ उजागर करने का भय भी दिखाया .ऊपर से अपना स्तर बहुत संस्कारित बताया . रविशंकर प्रसाद जी सर्वप्रथम तो श्री मोदी का अपनी वैवाहिक-स्थिति के सम्बन्ध में झूठ बोलना भारतीय-कानून की  दृष्टि से एक अपराध है .इसके बाद एक महिला के सामाजिक -सम्मान को लगाया गया आघात है और सबसे बढ़कर ये उनका व्यक्तिगत -मामला नहीं है .अब आते हैं गांधी-नेहरू परिवार के राज़ पर .बीजेपी -आर.एस.एस नेहरू जी ,इंदिरा जी ,राजीव जी ,सोनिया जी व् राहुल जी  के चरित्र-हनन का कोई मौका नहीं छोड़ा है .आज हर सोशल वेबसाइट पर इन सबके  के खिलाफ इतने जहरीले व् अश्लील  आलेख व् वीडियो आपने डाले हुए हैं कि हम जैसे भारतीय नागरिक तो इनकी झलक तक नहीं देख सकते .राहुल जी ने श्री मोदी के दोहरे चरित्र   को निशाना बनाकर जो कहा उसमे क्या गलत है ? जो आज महिलाओं को सशक्त बनाने की बात करता है उसे ये बताने  में क्या शर्म  आती  थी  कि उसका विवाह हुआ  है और उसकी  एक पत्नी है ? बीजेपी को समझ लेना चाहिए की अब और ज्यादा वो भारतीय-जनता को बेवकूफ नहीं बना सकती है .आपके द्वारा चुना गया प्रधानमंत्री -पद का दावेदार एक झूठा व्यक्ति है जिसे भारतीय जनता कभी लोकतंत्र के सर्वोच्च पद पर नहीं बैठाएगी और रही बात गांधी-नेहरू परिवार के चरित्र-हनन की तो ये कोशिश तो आप हमेशा से कर रहे हैं पर इतना याद रखियेगा -

''पत्थर ही मारना है तो देख ले पहले ,
जो सामने खड़ा है वो शख्स कौन है ! ''

जय हिन्द ! जय भारत !

शिखा कौशिक 'नूतन'

2 टिप्‍पणियां:

Shalini Kaushik ने कहा…

ekdam sahi kaha hai aapne. ye to khuleaam blackmailing hai aur ise ve apne sanskar kahte hain .

Mithilesh dubey ने कहा…

उस मुद्दे को इतना तुल देने का कोई वाजिब कारण ही नहीं है। खैर बढ़िया लिखा है आपने।