समर्थक

शनिवार, 13 जुलाई 2013

रोज़े रखकर क्या करे जब अल्लाह में ना ध्यान ?

Religious_symbols : Bird
लाउडस्पीकर  लगाये  के मुल्ला देत  अज़ान 

लाउडस्पीकर  लगाये  के मुल्ला देत  अज़ान  ,
चिंतन  में बाधा  पड़े  अल्लाह  है परेशान  !

करें  जागरण  माता  का डी.जे. तेज  बजा ,
मैय्या मंडप आई हैं ऊँगली कान लगा !

पर्यटन स्थल बन गए सारे तीरथ धाम     ,
मुक्ति स्थल पर भला क्या हनीमून का काम   ?

नेता अपना  हो गया चौबीस   कैरेट  सच्चा ,
खुद तो सच्चा देशभक्त जनता कुत्ते का बच्चा !

खरीदारी करते फिरें माह आया रमज़ान  ,
रोज़े रखकर क्या करे जब अल्लाह में ना ध्यान  ?

शिखा  कौशिक  'नूतन  '




13 टिप्‍पणियां:

Kailash Sharma ने कहा…

बहुत सटीक प्रस्तुति...

Shalini kaushik ने कहा…

पर्यटन स्थल बन गए सारे तीरथ धाम ,
मुक्ति स्थल पर भला क्या हनीमून का काम ?
right question .nice

pradeep ने कहा…

सच कहा

zeashan haider zaidi ने कहा…

सच है।

सुज्ञ ने कहा…

सार्थक दोहे

पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

सटीक !!

Ranjana verma ने कहा…

खरीदारी करते फिरे माह आया रमजान रोजा रखकर क्या करें जब अल्लाह में न ध्यान बिलकुल सही....

Ranjana verma ने कहा…

खरीदारी करते फिरे माह आया रमजान रोजा रखकर क्या करें जब अल्लाह में न ध्यान बिलकुल सही....

Ranjana verma ने कहा…

खरीदारी करते फिरे माह आया रमजान रोजा रखकर क्या करें जब अल्लाह में न ध्यान बिलकुल सही ....

Ranjana verma ने कहा…

खरीदारी करते फिरे माह आया रमजान रोजा रखकर क्या करें जब अल्लाह में न ध्यान बिलकुल सही ....

Ranjana verma ने कहा…

खरीदारी करते फिरे माह आया रमजान रोजा रखकर क्या करें जब अल्लाह में न ध्यान बिलकुल सही ....

दिगम्बर नासवा ने कहा…

सटीक .. सार्थक प्रस्तुति ...
पर फिर भी होड़ मची हुई है ...

Aditya Tikku ने कहा…

satik + ispasht-***