समर्थक

गुरुवार, 8 मार्च 2012

कर दे गोल ..........कर दे गोल !



ना छक्का ना चौका ;
दो हॉकी को मौका ;
सजा लो लबों पर बोल 
कर दे गोल ..........कर दे गोल ! 



shikha   kaushik  

4 टिप्‍पणियां:

Rajput ने कहा…

नमस्कार आप को होली की हार्दिक शुभकामनायें. होली रंगों का त्यौहार आप को सापेक्ष रंगीन बनावें और आपकी हर कामनाएं पूर्ण हो.
खुबसूरत सुरों से सजाई गई कविता .

Rakesh Kumar ने कहा…

अब तो खूब दनादन गोल करके रहेगी भारतीय टीम.
आपको पढ़ना सुनना अच्छा लगता है.

Naveen Mani Tripathi ने कहा…

bahut hi sundar....badhai sweekaren ...cricket banam desh meri nayee rachana hai kripaya blog tk jaroor padharen swagat hai shikha ji

नयना ने कहा…

wah..bahut khoob